You are currently viewing अंगारक दोष क्या होता है? जानिए इसके संकेत और निवारण उपाय

अंगारक दोष क्या होता है? जानिए इसके संकेत और निवारण उपाय

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक कुंडली अशुभ और शुभ दोनों तरह के योग का निर्माण होता है, शुभ योग जातक के जीवन में सफलता और खुशियां लाते हैं। वही दूसरी और अगर जातक की कुंडली मे अशुभ योग का निर्माण हो जाए तो उसके जीवन सिर्फ परेशानियां, बीमारियां और असफलता ही प्राप्त होती है। इन अशुभ योगो मे से एक अंगारक दोष भी है। इस लेख में, हम अंगारक दोष क्या होता है के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे तथा इसके प्रभाव, लक्षण, और उपाय के बारे में भी हम जानेंगे।

अंगारक दोष क्या है?

अंगारक दोष को बहुत ही खतरनाक और अशुभ दोष माना जाता है, यदि किसी जातक की कुंडली में मंगल गृह का राहू अथवा केतु में से किसी एक के साथ स्थान अथवा दृष्टि से संबंध स्थापित हो जाए तो ऐसी कुंडली में अंगारक दोष का निर्माण हो जाता है, अंगारक दोष के कारण जातक का स्वभाव आक्रामक, हिंसक तथा नकारात्मक हो जाता है तथा इस योग के प्रभाव में आने वाले जातकों के अपने भाईयों, मित्रों तथा अन्य रिश्तेदारों के साथ संबंध भी खराब हो जाते हैं।

अंगारक दोष के प्रभाव

अंगारक दोष के प्रभाव

अंगारक दोष बहुत खतरनाक दोष है, इसके प्रभाव निम्न है,

  • व्यक्ति की कुंडली में यदि अंगारक योग बन रहा है तो वह व्यक्ति बहुत अधिक गुस्सैल होता हुआ नजर आता है।
  • जातक नकारात्मक चीजों की तरफ दिमाग लगाता हुआ नजर आता है।
  • अंगारक दोष के प्रभाव के कारण जातक का स्वभाव आक्रामक, हिंसक तथा नकारात्मक हो जाता है।
  • अंगारक दोष से पीड़ित व्यक्ति के रिश्तेदारों के साथ संबंध भी खराब हो जाते हैं।
  • जातक को वैवाहिक जीवन से संबन्धित समस्याओ का सामना भी करना पड़ता है।
  • चतुर्थ भाव में अंगारक योग होने से माता को दुख व भूमि संबंधित विवाद होते हैं।

अंगारक दोष के लक्षण

अंगारक दोष के व्यक्ति पर निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं:

  • जिस व्यक्ति की कुंडली में अंगारक दोष का निर्माण होता है, वह व्यक्ति स्वभाव से उग्र हो जाता है।
  • अंगारक दोष से पीड़ित व्यक्ति को गुस्सा जल्दी आता है।
  • छोटी-छोटी बातों को लेकर लड़ने लगता है।
  • अंगारक दोष से पीड़ित व्यक्ति को स्वास्थ्य समस्याएं, जैसे कि मांसपेशियों की समस्याएं होती है।
  • इस दोष के कारण जातक को आर्थिक संकट से भी गुजरना पड़ता है।
  • जातक को संबंधों में समस्या का सामना करना पड़ता है।

अंगारक दोष के उपाय

अंगारक दोष के उपाय

अंगारक दोष के प्रभाव को कम करने के उपाय निम्नलिखित है,

  • अंगारक दोष के प्रभाव को कम करने के लिए आप भगवान भैरव को केले के पत्ते पर चावल का भोग लगा सकते हैं, और देसी घी के दीपक को हर रोज मंदिर में जलाना शुभ होगा।
  • अगर आप कबूतर को रोज बाजरा खिलाए तो इससे अंगारक दोष का असर कम होगा।
  • अंगारक दोष को शांत करने के लिए मूंगा रत्न का धारण करना फायदेमंद हो सकता है।
  • अंगारक दोष के प्रभाव को कम करने के लिए विशेष मंत्रों का जाप और यज्ञ करना उपयुक्त हो सकता है।
  • अंगारक दोष को दूर करने के लिए दान और पूजा करना भी एक उपाय हो सकता है।

अंगारक दोष निवारण मंत्र

अंगारक दोष निवारण मंत्र की मदद से आप अपनी कुंडली मे से अंगारक दोष के बुरे प्रभावों को कम कर सकते है,  “ॐ अं अंगारकाय नमः” इस मंत्र का जाप रोज 108 बार करे।

अंगारक दोष निवारण पूजा

अंगारक दोष एक बहुत ही खतरनाक दोष होता है, इस दोष के चलते जातक का पूरा जीवन नष्ट हो जाता है। अंगारक दोष निवारण पूजा ही एक ऐसा उपाय है जिसके माध्यम से आप अपनी कुंडली मे से अंगारक दोष को आसानी से दूर कर सकते है। आप ऊपर दिए गए उपायो से सिर्फ इस दोष के प्रभाव को कम कर सकते है लिकिन अंगारक दोष पूजा से आप इस दोष से हमेशा के लिए मुक्ति पा सकते है।

अंगारक दोष पूजा खर्च

अगर आप उज्जैन नगरी मे अंगारक दोष पूजा सम्पन्न कराते है तो इसमे आपका 2500 से 3500 रुपये तक का खर्च आ सकता है जिसमे आपकी सम्पूर्ण पूजा सामग्री सहित सम्पन्न हो जाएगी। अगर आपको अंगारक दोष पूजा खर्च के बारे मे और अधिक जानकारी चाहिए तो आप ज्योतिष मंगलेश शर्मा जी से बात कर सकते है।

उज्जैन मे अंगारक दोष पूजा

उज्जैन मे अंगारक दोष पूजा

अगर आप उज्जैन मे अंगारक दोष निवारण करवाना चाहते है, तो आप ज्योतिषाचार्य मंगलेश शर्मा जी से संपर्क कर सकते है। पंडित जी के पास वर्षभर अंगारक दोष पूजा के लिए लोग आते है, और अपनी समस्याओ और बाधाओ से छुटकारा पाते है। अगर आप भी दोष से हो रही समस्याओ से परेशान है और समस्या के समाधान के लिए पूजा करवाना चाहते है, तो नीचे दी गई बटन पर क्लिक करके पंडित जी से बात कर सकते है।

Call Pandit Ji

Leave a Reply