You are currently viewing कालसर्प दोष क्या है – जानिए पूरी जानकारी उपाय के साथ

कालसर्प दोष क्या है – जानिए पूरी जानकारी उपाय के साथ

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार किसी भी व्यक्ति की कुंडली मे ग्रहो की स्थिति ही शुभ या अशुभ योग के होने का कारण होती है। शुभ योग के होने से व्यक्ति को बहुत से लाभ होते है वही अगर अशुभ योग हो जाए तो व्यक्ति को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

अशुभ दोषो मे सबसे ऊपर कालसर्प दोष का नाम आता है, इसे हम कालसर्प योग भी कहते हैं। कालसर्प दोष के कारण जातक को जीवन में विभिन्न प्रकार की समस्याएं आ सकती हैं। आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएँगे की कालसर्प दोष क्या है? और इसके बारे मे सम्पूर्ण जानकारी आपको देंगे ।

कालसर्प दोष क्या होता है?

कालसर्प दोष एक ज्योतिषीय अवधारणा है। किसी भी जातक की कुंडली मे कालसर्प दोष का होना पूर्ण रूप से राहु और केतु की स्थिति पर निर्भर करता है। पौराणिक मान्यताओ के अनुसार जब किसी जातक की कुंडली के सभी ग्रह राहु और केतु के बीच मे आ जाते है, तब व्यक्ति की कुंडली मे कालसर्प दोष परिलक्षित होता है। जातक की कुंडली मे कालसर्प दोष होने के कारण उसे बहुत सारी मुसीबतों एवं कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।

राहु और केतु को छाया गृह भी कहा जाता है, राहु और केतु के अलग-अलग भाव मे रहने पर जातक की कुंडली मे अलग-अलग प्रकार के कालसर्प योग देखने को मिलते है। इन प्रकारो के बारे मे और जनने के लिए कालसर्प दोष के प्रकार पर क्लिक करे।

कालसर्प दोष के लक्षण क्या है?

कालसर्प दोष के लक्षण क्या है?

नीचे दिये गए संकेतो के द्वारा आप कालसर्प दोष के लक्षण को आसानी से पहचान सकते है,

  • कालसर्प दोष के चलते का ग्रहस्थ जीवन अस्त-व्यस्त हो जाता है।
  • कालसर्प दोष के कारण जातक के परिवार मे विवाद या कलह होता है।
  • जातक शारीरिक तथा मानसिक रूप से बीमार रहता है।
  • जातक को हमेशा म्रत्यु का भाय सताता रहता है।
  • जातक के मन मे नकारात्मकता भाव उत्पन्न होने लगते है।
  • जातक को निसंतानता की परेशानियो से जूझना। 
  • जीवन के प्रत्येक क्षेत्र मे व्यवधान उत्पन्न होना। 
  • कुंडली मे कालसर्प दोष के होने से जातक की आर्थिक स्थिति पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो जाती है।
  • संपत्ति, धन तथा यश की प्राप्ति न होना। 
  • किसी कार्य के प्रति उत्साह का आभाव।
  • कालसर्प के कारण जीवन मे मांगलिक या शुभ कार्यो का न हो पाना।

कालसर्प दोष के असर को कम करने के उपाय

नीचे दिये गए उपाय की मदद से आप अपकी कुंडली मे चल रहे कालसर्प दोष के असर को कम कर सकते है,

  • जातक को कालसर्प दोष के दुष्परिणाम से बचने के लिए प्रतिदिन महामृत्युंजय मंत्र का जाप करना चाहिए।
  • जातक को सावन मे प्रति दिन भगवान शिव का जलाभिषेक करना चाहिए।
  • काल सर्प दोष से छुटकारा पाने के लिए जातक को सोमवार, मासिक शिवरात्रि, महाशिवरात्रि, त्रयोदशी, इत्यादि तिथियों पर भगवान शिव का विधिवत रुद्राभिषेक करना चाहिए।
  • जातक को शुभ मुहूर्त में शिवलिंग पर तांबा या चांदी से बना हुआ नाग अर्पित करना चाहिए।

कुंडली मे कालसर्प दोष होनी का क्या कारण है।

कालसर्प दोष को धार्मिक दृष्टि से देखा जाता है और यह माना जाता है कि कालसर्प दोष किसी भी व्यक्ति की कुंडली मे उसके द्वारा पिछले जन्म मे किए गए कर्मो के फल के रूप मे परिलक्षित होता है। कालसर्प दोष के कारण जातक को जीवन में विभिन्न प्रकार की समस्याएं आ सकती हैं, जैसे कि संबंधों में कठिनाइयां, परिवार में विवाद, स्वास्थ्य समस्याएं, आर्थिक संकट आदि।

किसी भी व्यक्ति की कुंडली मे कालसर्प दोष का दुष्प्रभाव कम से कम 27 वर्ष और अधिकतम जातक की मृत्यु तक रहता है। राहु और केतु की स्थिति के अनुसार कालसर्प दोष कितने समय तक रहता है ये जानने के लिए कालसर्प दोष कितने वर्षो तक रहता है इस पोस्ट को पड़े।

कालसर्प दोष को हमेशा के लिए दूर करने का उपाय

कालसर्प दोष एक बहुत ही खतरनाक दोष होता है जो की किसी भी व्यक्ति की साधारण सी जिंदगी को पूरी तरह से नष्ट कर देता है। अगर इस दोष का समय पर निवारण न किया जाए तो कालसर्प दोष से पीड़ित व्यक्ति का पूरा जीवन तहस नहस हो जाता है। और उसके परिवार मे हमेशा कलह का महोल बना रहता है, पीड़ित व्यक्ति को व्यवसाय मे भी बहुत सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।

कालसर्प दोष को कुंडली मे से हमेशा के लिए दूर करने का सबसे आसान और असरदार तरीका कालसर्प दोष निवारण पूजा है। आप कालसर्प दोष निवारण पूजा से अपने जीवन मे आ रही सारी परेशानियों से भी छुटकारा पा सकते है।

उज्जैन मे कालसर्प दोष निवारण पूजा

उज्जैन मे कालसर्प दोष निवारण पूजा

अगर आप मध्य प्रदेश के उज्जैन मे कालसर्प दोष निवारण पूजा करवाना चाहते है, तो आप ज्योतिषाचार्य मंगलेश शर्मा जी से संपर्क कर सकते है। पंडित जी के पास वर्षभर कालसर्प दोष निवारण पूजा के लिए लोग आते है, और अपनी समस्याओ और बाधाओ से छुटकारा पाते है।

अगर आप भी अपनी किसी समस्या से परेशान है, और उसके समाधान के लिए पूजा करवाना चाहते है, तो नीचे दी गई बटन पर क्लिक करके पंडित जी से बात कर सकते है।

Call Pandit Ji

FAQs


कालसर्प योग होने से क्या होता है?

कालसर्प योग के कारण जातक के जीवन में विभिन्न प्रकार की समस्याएं आ सकती हैं, जैसे कि संबंधों में कठिनाइयां, परिवार में विवाद, स्वास्थ्य समस्याएं, आर्थिक संकट आदि।


कालसर्प योग से कैसे छुटकारा पाएं?

कालसर्प योग एक बहुत ही खतरनाक दोष होता है, इस दोष से पीड़ित व्यक्ति को बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इस दोष से हमेशा के लिए मुक्ति पाने के लिए कालसर्प दोष निवारण पूजा ही एकमात्र उपाय है।

कालसर्प दोष क्या होता है?

कालसर्प दोष एक ज्योतिषीय अवधारणा है। पौराणिक मान्यताओ के अनुसार जब किसी जातक की कुंडली के सभी ग्रह राहु और केतु के बीच मे आ जाते है, तब व्यक्ति की कुंडली मे कालसर्प दोष परिलक्षित होता है।

Leave a Reply